BHIM एप की सहायता से कमाये बोनस और कैशबैक

bhim app

नमस्कार दोस्तों, हिन्दी टेक 360 ब्लॉग पर आपका स्वागत है | इस आर्टिकल में हम BHIM एप के बारे में बात करेंगे | जैसा की आप लोग जानते है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने इस एप को 31 दिसम्बर , 2016 को लॉन्च किया था | इस एप का पूरा नाम भारत इंटरफेस फॉर मनी है | यह एक यूपीआई आधारित एप है और यूपीआई का पूरा नाम यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस है | इस एप की सहयता से कोई भी यूजर ऑनलाइन बैंकिंग के जरिये लेन-देन कर सकता है | इस एप को अभी तक 80 लाख लोग गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर चुके है | इसके तुरंत बाद प्रधानमंत्री मोदी जी ने आधार पे योजना की शुरुआत की और इस फीचर को BHIM एप के साथ भी जोड़ा गया है | आधार पे सर्विस के आने से ग्राहक बिना डेबिट कार्ड , क्रेडिट कार्ड , ई-वॉलेट और स्मार्टफोन के भुगतान कर सकता है | इसके अलावा आपको बता दे की केंद्र सरकार ने BHIM एप के यूजर्स की संख्या को बढ़ाने के लिये पिछले दिनों ग्राहकों और दुकानदारों  के लिए दो आकर्षक ऑफर रेफरल बोनस और मर्चेंट कैशबैक लॉन्च किये है | इन दोनों स्कीम के बारे में नीचे विस्तार से बताया गया है-

ग्राहकों के लिए रेफरल बोनस स्कीम –

इस योजना को खासतौर पर ग्राहकों के लिए लॉन्च किया गया है| इस योजना के तहत यूजर को BHIM एप  को दुसरे लोगो को रेफर होता है | इससे रेफर करने वाले व्यक्ति और नये यूजर दोनों को बोनस मिलता है | अगर बोनस की बात करे तो प्रत्येक सफल रेफर पर रेफर करने वाले व्यक्ति को 10 रुपये बोनस मिलेगा और नये यूजर को एप को इनस्टॉल करने और पहला ट्रांजैक्शन करने पर 25 रुपये बोनस मिलेंगे| यहाँ पर सफल रेफर का मतलब यह है कि जो नया यूजर एप को डाउनलोड करता है उसे तीन बार सफल लेन-देन करना होता है और तभी रेफर करने वाले व्यक्ति को 10 रुपये बोनस मिलता हैं | इसके अलावा ग्राहकों को और भी कई तरीके के बोनस दिए जायेंगे |

दुकानदारों के लिए मर्चेंट कैशबैक योजना –

BHIM कैशबैक योजना का उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा व्यापारियों को इस एप के साथ जोड़ना और इस एप के जरिये कारोबार लेन-देन को बढ़ाना है | इस योजना को इस एप के अलग-2 मोड जैसे- क्यूआर कोड , वीपीए ,मोबाइल नंबर और आधार से भुगतान के जरिये लेन-देन को प्रोत्साहन देने के लिए शुरु किया गया है | इस योजना के तहत दुकानदारो को हर महीने 300 रुपये तक कैशबैक मिल सकता है | इसके अलावा हर दुकानदार 6 महीने में 1800 रुपये तक का फायदा ले सकता है |

BHIM एप का नया वर्जन –

इसके अलावा BHIM एप को नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) के द्वारा एंड्राइड और आईओएस के लिए अपडेट कर दिया गया है | इसके नये वर्जन में नई भाषाओं के लिए सपोर्ट , मोबाइल नंबर की सहायता से पैसे भेजना , क्यूआर कोड स्कैनिंग , वर्चुअल पेमेंट एड्रेस (वीपीए) को एक बार एडिट करना का विकल्प जैसे फीचर दिए गये है | अब एसबीआई बैंक का मेस्ट्रो कार्ड भी इस एप पर स्वीकार किया जायेगा | इसके अलवा यूजर पेमेंट ट्रैक करने के लिए ट्रांजैक्शन हिस्ट्री को डाउनलोड भी कर सकता है |

अगर आपको इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी सवाल पूछना है तो आप कमेंट कर सकते है और इसे शेयर करने ना भूलें

धन्यवाद!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!

 

Leave a Reply

%d bloggers like this: